रिश्ता कहानियों से

पब्लिकेशन स्टोरी/बुक कैफे मुझे किताबें पढ़ते हुए कई साल हो गए हैं…शायद 30 साल. वेद जी, पाठक जी, अनिल जी के साथ साथ 90 के दशक के अधिकतर राइटर्स को पढ़ता था. तब सोचता था क्या एक लेखक, एक सफल बुक पब्लिशर बन सकता है… Read More