वूल से बचेंगे ग्लेशियर!

ग्लोबल वार्मिंंग का सबसे खतरनाक असर ग्लेशियरों पर पड़ा हैं, जिनके पिघलने की तेज रफ्तार ने धरती के ईकोसिस्टम के लिए काफी बड़ी चुनौती खड़ी कर दी है.

Image courtesy: Mystraysoul(Pixabay)

स्वीडन के वैज्ञानिकों ने इस समस्या से बचने का एक नायाब तरीका खोज निकाला है, जिसमें नॉर्दर्न स्वीडन में देश के सबसे ऊंचे पर्वत केबनेकाइज पर स्थित हेलाग्स ग्लेशियर को पिघलने से बचाने के लिए उसे एक वूलैन शीट, जिस पर कॉर्न स्टॉर्च का लेप होता है, से ढक दिया जाता है.
इस साधारण से तरीके को आजमाने के असाधारण नतीजे सामने आए हैं और ग्लेशियर को करीब साढ़े तीन मीटर ऊंचाई तक पिघलने से बचाया जा सका है. इस प्रयोग की सफलता से उत्साहित होकर इसे दूसरे इलाकों के ग्लेशियरो को बचाने में इस्तेमाल की योजना तैयार की जा रही है.

Add Comment