इंडियन साइंस कॉन्फ्रेंस जनवरी में

108वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस-2023 का आयोजन नागपुर में होने जा रहा है. 3 से 7 जनवरी के बीच चलने वाला यह विराट सम्मेलन, राष्ट्र संत तुकड़ोजी महाराज विश्वविद्यालय में आयोजित किया जायेगा. इसमें भारत के अलावा, अन्य देशों के ख्यातिप्राप्त वैज्ञानिक हिस्सा लेंगे.

Image courtesy: ar130405(Pixabay)

सूत्रों का कहना है कि रोबोसोम पर कार्य के लिए नोबेल पुरस्कार (2019) पाने वाले इजराइल के योधन क्रिस्टलोग्राफर और रसायन के क्षेत्र में 2016 के नोबेल विजेता यूके के सर फ्रेजर स्टोडार्ड ने इसमें शामिल होने के लिए सहमति दे दी है. इस कॉन्फ्रेंस में चिल्ड्रन कॉन्ग्रेस और अन्य कई कार्यक्रमों को शामिल किया गया है.

इंडियन साइंस कांग्रेस एसोसिएशन (ISCA) की स्थापना का श्रेय ब्रिटिश रसायनशास्त्रियों, प्रोफेसर जे.एल. सिमोंसेन और प्रोफेसर पी.एस. मैक महोन को जाता है. उनका मानना था कि यदि ब्रिटिश एसोसिएशन फॉर द एडवांसमेंट ऑफ साइंस की तर्ज पर भारत में भी अनुसंधान कार्यकर्ताओं की वार्षिक बैठक आयोजित की जा सकती है, तो इससे देश में वैज्ञानिक अनुसंधान को प्रोत्साहन मिलेगा.

Add Comment